गज शब्द के रूप | Gaj Shabd Roop in Sanskrit

गज शब्द को संस्कृत में हिंदी के ' हाथी ' शब्द के लिए और अंग्रेजी में ' एलीफैंट ( elephant ) ' के लिए उपयोग में लाया जाता है

गज शब्द अजन्त (अकारांत) पुल्लिंग संज्ञा शब्द है। सभी पुल्लिंग संज्ञाओ के रूप इसी प्रकार बनाते है। जैसे- देव, बालक, राम, वृक्ष, सुर, मानव, अश्व, दिवस, ब्राह्मण, छात्र, सूर्य, शिष्य, लोक, ईश्वर, नृप, कृष्ण, विद्यालय, ग्राम, तडाग, बाण, मृग, सर्प, शकट, दर्पण, दीप, छाग, कूप, चाप, चन्द्र आदि। कहीं - कहीं न् का ण् एवं स् का ष् हो जाता है

गज शब्द के रूप सातों विभक्ति में - Gaj Shabd Roop in Sanskrit

गज शब्द के रूप सातों विभक्ति में एवं तीनों वचनों में नीचे दिये गये हैं:

विभक्ति

एकवचन

द्विवचन

बहुवचन

प्रथमा

गजः

गजौ

गजाः

द्वितीया

गजम्

गजौ

गजान्

तृतीया

गजेन

गजाभ्याम्

गजेभ्यः

चतुर्थी

गजाय

गजाभ्याम्

गजेभ्यः

पंचमी

गजात् / गजाद्

गजाभ्याम्

गजेभ्यः

षष्‍ठी

गजस्य

गजयोः

गजानाम्

सप्‍तमी

गजे

गजयोः

गजेषु

सम्बोधन

हे गज!

हे गजौ!

हे गजाः!


गज शब्द के रूप सातों विभक्ति में हिंदी अर्थ के साथ - Gaj Shabd Roop in Sanskrit with hindi meaning

गज शब्द के रूप सातों विभक्ति में एवं तीनों वचनों में, हिंदी अर्थ के साथ नीचे दिये गये हैं:

विभक्ति

एकवचन

द्विवचन

बहुवचन

प्रथमा

गजः (हाथी, हाथी ने)

गजौ (दो हाथी, दो हाथियों ने)

गजाः (अनेक हाथी, अनेक हाथियों ने)

द्वितीया

गजम् (हाथी को)

गजौ (दो हाथियों को)

गजान् (अनेक हाथियों को)

तृतीया

गजेन (हाथी से, हाथी के द्वारा)

गजाभ्याम् (दो हाथियों से, दो हाथियों के द्वारा)

गजेभ्यः (अनेक हाथियों से, अनेक हाथियों के द्वारा)

चतुर्थी

गजाय (हाथी के लिए, हाथी को)

गजाभ्याम् (दो हाथियों के लिए, दो हाथियों को)

गजेभ्यः (अनेक हाथियों के लिए, अनेक हाथियों को)

पंचमी

गजात् / गजाद् (हाथी से)

गजाभ्याम् (दो हाथियों से)

गजेभ्यः (अनेक हाथियों से)

षष्‍ठी

गजस्य (हाथी का, हाथी के, हाथी की)

गजयोः (दो हाथियों का, दो हाथियों के, दो हाथियों की)

गजानाम् (अनेक हाथियों  का, अनेक हाथियों के, अनेक हाथियों की)

सप्‍तमी

गजे (हाथी में, हाथी पर)

गजयोः (दो हाथियों में, दो हाथियों पर)

गजेषु (अनेक हाथियों  में, अनेक हाथियों पर)

सम्बोधन

हे गज! (हे हाथी!)

हे गजौ! (हे दो हाथियों!)

हे गजाः! (हे अनेक हाथियों!)

गज का शब्द रूप संस्कृत में - Gaj Ka Shabd Roop Sanskrit Mein

गज शब्द प्रथमा विभक्ति एकवचन - गजः
गज शब्द प्रथमा विभक्ति द्विवचन - गजौ
गज शब्द प्रथमा विभक्ति बहुवचन - गजाः
गज शब्द द्वितीया विभक्ति एकवचन - गजम्
गज शब्द द्वितीया विभक्ति द्विवचन - गजौ
गज शब्द द्वितीया विभक्ति बहुवचन - गजान्

अन्य शब्द रूपों  का संग्रह -



Post a Comment

0 Comments